सुबह उठ के बाद मुंह से बदबू क्यों आती है? - Life At Exp

New Articles

Saturday, August 1, 2020

सुबह उठ के बाद मुंह से बदबू क्यों आती है?

सांसों की बदबू के कारण।

मुंह से बदबू क्यों आती है? 

एक इंसान रात को सोते समय सुबह उठते वक्त काफी अलग होता है सुबह सुबह उटते समय ज्यादा आराम के अलावा एक और चीज है जो ज्यादा बढ़ जाती है। हमारे मुंह की बदबू। हम सब के साथ यह रोज़ सुबह होता ही है। लेकिन सोचने वाली बात यह है कि रात भर में हमारे मुंह के अंदर ऐसा क्या होता है? कि सुबह उटके सड़े हुए अंडे और बदबूदार मोजों जैसी बदबू आती है मतलब ऐसा भी क्या हुआ रात भर में दिन में तो सब ठीक था? 

सांसों की बदबू के कारण। आपको पता है यह क्यों होता है? 
बैक्टीरिया के वजह से। हमारे मुंह के अंदर का मौसम बहुत ही गर्म और खाने के कुछ छेटे-छोटे टुकडे यानि के कुछ फूड पार्टिकल से भरा होता है और यही मौसम और यही फूड पलर्टिकल बैक्टीरिया को बहुत पसंद आते हैं। कुछ बैक्टीरिया हमारे मुंह के अंदर हमेशा मौजूद होते हैं। जो हमारे मुंह में मौजूद बची कुची खाने और डेंट सेल्स को खाते रहते हैं। क्योंकि यह बैक्टीरिया सारा टाइम हमारे मुंह में मौजूद होते हैं।

 यह बाकी खतरनाक बैक्टीरिया को हमारे मुंह के अंदरं नहीं आने देते और हमें उनसे बचाते हैं। और इससे पहले आप अपने दिमाग में इनकी एक अच्छी इमेज बना ले में आपको बता दूं की इन्हीं बैक्टीरिया के वजह से हमें कैविटी और मसूड़ों की बीमारियां होती है और यही बैक्टीरिया जिम्मेदार है हमारे मुंह के बदबू का। 


लेकिन ऐसा क्या करते हैं यह बैक्टीरिया हमारे मुंह के अंदर? 
जैसे- जैसे यह बैक्टंरिया हमारे मुंह के अंदर फूट पार्टिकल्स को खाते रहते हैं इनके शरीर से कुछ कंपाउंड वेस्ट की तरह निकलते रहते हैं और यह बदबू उन्हीं वेस्ट कंपाउंड की होतै है। 

बैक्टेरिया से नेकलने वाले यह वेस्ट कंपाउंड अलग-अलग तरह के होते हैं औरै इनके स्मैल भी अलग-अलग होती है। जेसे कि हाइड्रोजन सल्फाइड जो सड़े हुए अंडो जैसा स्मेल करता है। मेथेनथिओल(Methanethiol) जिसे फर्ट स्मेल भी कहते है। और कड़वेरिने(Cadaverine) जो सड़े हुए मीट जैसा स्मैल करता है। तो ऐसे ही कई अलग अलग तरह की कैपाउंड है जो बैक्टीरिया हमारे मुंह में रिलीज करता है। और हमारा मुंह इन्हीं कंपाउंड्स की बदबू छोड़ता रहता है तो अगर अब आपको कोई बोले तेरे मुंह से सड़े हुए अंडे की बदबू आ रही है तो आप कह सकते हैं

 इट्स हाइड्रोजन सल्फाइड! अच्छा, लेकिन अगर बैक्टीरिया यह बदबू छोड़ता है और बैक्टीरैया हमारी मुह में सारा टाइम मौजूद होते है तो फिर 

बदबू सुबह ही क्यों आती है? 

दिन भर में सिलाईभा की मदद से हमारे मुह में मौजूद बैक्टीरिया और फूड पार्टिक्लस। हमारे अंदर जाकर टाइम टू टाइम साफ होते रहते हैं लेकिन रात में ऐसा नहीं हो पता। रात में हमारा मुह उताना सिलाईभा नहीं बना पाता जितना की वो दिन भर में बनाता है। और इसी वजह से इन बैक्टीरिया का सफाया नहीं हो पाता। जिसके कारण यह बैल्टीरिया हमारे मुंह के अंदर मौजूद फुड पार्टिकल और डैड सेल्स को खाते रहते हैं और भारी मात्रा में बढ़ते ही रहते हैं और जब बैक्टेरिया बढ़ेंगे तो उनके द्वारा छोड़ी गई स्मेल तो बढ़ेगी ही ना।

 तो मैं आप सबको बता सकता हूं की यह बदबू मेरे मुंह से नहीं बल्कि बैटेरिया से आती है। लेकिन इस से बदबू तो नहीं जाएगी ना। तो अगर आप चाहते हैं कि सुबह उठकर आपके 

मुंह की दुर्गंध भगाने के तरीका -

मुंह से यह बदबू कम आए आपके आसपास वालों का भला हो जाए। तो रात को सोने से पहले ब्रश करना, अपनी जीभ साफ करना अपने मुंह को साफ करना जैसी आदतें आपकी मुंह से बदबू हटाने में मदद कर सकती हैं। 

No comments:

Post a Comment